घरों की सुंदरता की कहानी, रंगों की जुबानी

0
117

घर की सुन्दरता का ट्रेंड बदल रहा है। इस पर बदलते वक्त का स्पष्ट प्रभाव देखा जा सकता है। पहले घरों को किसी पर्व-त्यौहर के समय रंग-रोगन किया जाता था लेकिन अब ऐसी बात नहीं है। अब घरों को रंगों की थीम को आधार बनाकर डेकोरेशन किया जाता है। पसंद के अनुसार हर रंग की एक अलग परिभाषा इंटीरियर की दुनिया में है। खासकर, आज कल हर प्रकार की रंगों को खूब प्राथमिकता दी जा रही है।

Third Party Image

सुकून, चैन और  सौम्यता से भरपूर यह रंग हर जगह अपना खास स्थान बना चुका है। प्राकृतिक तत्वों से मेल खाता यह रंग आंखों को भी खूब भाता है। इस मनभावन रंग के असर से हॉल, किचन, बाथरूम, ड्राइंग रूम और किड्स रूम  भी रंगा नजर आता है। इस रंग से नाता जोडिय़े और घरों की सुन्दरता के साथ-साथ खुद में फर्क महसूस कीजिए।

LEAVE A REPLY