अमेरिका का ग्लास ब्रिज, जो मज़बूती में लोहे से भी…

0
95
glass-bridge
Third Party Image
मुकेश के झा
अमेरिका के अरिजोना प्रांत में बना यह ब्रिज भले ही शीशे का बना हो लेकिन इसकी मज़बूती बेमिशाल है। इसे स्टील के पीलरों के सहारे इतना मज़बूत बनाया गया है कि यह 71 बोइंग विमान का भार का वहन भी कर सकता है। ग्लास ब्रिज के आस-पास 100 माइल्स प्रति घंटे की दर से चलने वाली हवा और 8.0 मैग्नूट्युड तीव्रता वाली भूकम्प के झटके भी इसका बाल बांका नहीं कर सकता।
अमेरिका के अरिजोना राज्य में कॉलोरोडो नदी के चारों ओर ग्रांड कैनियन के पठारों का साम्राज्य है,जो कई महत्वपूर्ण भौगोलिक परिवर्तन का स्वरूप अपने में समेटे हुए है। यहां स्थित नेशनल पार्क को अमेरिका का प्रथम नेशनल पार्क के रूप में जाना जाता है। ग्रांड कैनियन दुनिया भर के पर्यटकों के लिये पसंदीदा स्थान माना जाता है। अब यहां पर्यटक स्काई वॉक भी कर सकते हैं। प्रकृति की गोद में सिमटा यह स्थान वास्तव में प्रकृति के साथ एक अनोखा संगम भी बनाता है। जिस संगम में डूब-उतरकर पर्यटक एक अद्भूत रोमांच का अहसास भी करते हैं। इसी अद्भूत रोमांच के कारण दुनिया में इसे सबसे बड़ी प्राकृतिक आश्चर्यों में से एक माना जाता है। यहां पर ग्लास ब्रिज का निर्माण आने वाले पर्यटकों के लिये जिज्ञासा का विषय है। इस ग्जास ब्रिज का संचालन यहां के मूल निवासी Hualapai  कर रहे हैं। Hualapai  अमेरिका के अरिजोना प्रांत के आदिवासी समुदाय हैं जो मुख्य रूप से ग्रेण्ड कैनियन पठार के आस-पास रहते हैं।
यह अजूबा ग्लास बिल्डिंग ग्रांड कैनियन पठार के फ्लोर से चार हज़ार फीट के ऊपर है और यह मुख्य कैनियन पठार से 70 फीट तक फैला हुआ है। इसे 28 मार्च, 2008 को ओफ्फिसिअल रूप से आम लोगों के लिये खोल दिया गया है। इस ग्लास ब्रिज के अनोखे रूप से रूबरू करने के लिये प्रत्येक व्यक्ति को 25 डॉलर खर्च करने पड़ते हैं। एक बार 120 लोगों को इस ब्रिज पर जाने का मौका दिया जाता है। पहले आओ और पहले पाओ की नीति इससे रूबरू होने के लिये आपको जल्दबाजी भी करनी पड़ेगी। इस खूबसूरत और अजूबा ग्लास ब्रिज की देखरेख करने के लिये Hualapai  को अतिरिक्त सावधानियां भी बरतनी पड़ती है। किसी भी प्रकार के स्क्रेच न लगे इस बावत यहां पर आगन्तुकों को कई प्रकार के निर्देशों का भी पालन भी करना पड़ता है। पर्यटकों को सुविधाएं प्रदान करने के लिये यहां कई प्रकार के प्रोजेक्ट पर भी काम चल रहे हैं। इस ग्लास ब्रिज को मज़बूती प्रदान करने के लिये कर्ई स्टील के पीलरों से जोड़ा गया है।
इस ब्रिज को सुचारू रूप से संचालन के लिए पहले कई बार परीक्षण के दौर से भी गुजरना पड़ा था। यहां आने वाले आगुन्तकों के लिये छ: हज़ार स्क्वेयर फीट में विजिटर सेंटर बनाये भी गये हैं। यह विजिटर सेंटर को अंडरग्राउंड, पहली मंजिल और दूसरी मंजिल में बांटा गया है। यह विजिटर सेंटर म्यूजियम, मूवी थियेटर, वीआईपी लान्ज, गिफ्ट शॉप और रेस्टोरेंट जैसी आधुनिक सुविधाओं से लैस है। इस विजिटर सेंटर में इंडोर और आउटडोर जैसी अन्य सुविधाएं भी है, जहां मीटिंग, शादी समारोह और कई महत्वपूर्णबातों पर क्रान्फ्रेंस का आयोजन किया जाता है। ग्रांड कैनियन लास वेगास से 120 माइल. पूर्व और एरिजोना के महत्वपूर्ण सिटी किंगमैन से 72 माइल उत्तर-पूर्व में स्थित है। यहां पुरानी संस्कृति के रूप में ढला गांव, आदिवासी समुदाय का प्राकृतिक प्रदार्थों से बना आवास, हालापाई  मार्केट, हालापाई रांच महत्वपूर्ण दर्शनीय स्थल है, जो आपको प्रकृति के खूबसूरती से रूबरू करता है। ग्रांड कैनियन का सिफ पश्चिमी भाग से ही आप यहां के मनमोहक दृश्य का आनंद ले सकते हैं।
इस प्राकृतिक रूपों का आनंद लेने के लिये आपको हैलीकॉप्टर का सहारा लेना होगा। कॉलोराडो नदी में चलने वाले बोट के सहारे आप इस सुन्दर प्रदेश के कई महत्वपूर्ण पहलुओं से भी मुलाकात कर सकते हैं। पर्यटकों की सेवा में यहां करीब 30 टूर एंड टैवलर्स कंपनियां काम करती हैं, जो लास वेगास, फौनिक्स और सीडोना जैसे महत्वपूर्ण स्थानों से पर्यटकों को यहां लाती है। पर्यटकों को प्रकृति के इस अनमोल स्वरूप से रूबरू कराने के लिये कई महत्वपूर्ण कंपनियां का एयरोप्लेन, हैलीकॉप्टर और जनरल मोटर्स का आराम दायक कोच भी सेवा में लगा है। लास वेगास का उद्यमी डेविड जीन ने सर्वप्रथम यहां पर पर्यटकों के आने का मार्ग प्रशस्त किया । कुछ बातों को लेकर यहां के आदिवासी समुदाय ने शुरू में अपनी आपत्ती भी दर्ज करायी थी लेकिन बाद में मामला शांत हो गया। इसके अलावा इसमें  एक्ट्रीम इंजीनियरिंग का भी इस्तेमाल हुआ है, यदि यहां 8 अलग- अलग दिशाओं में 100 माइल्स प्रति घंटा(100 miles per hour )हवा भी चले और इसके 50 माइल्स के भीतर 8.0 मैग्नूट्युड के भूकम्प के झटके भी आये तो इस अनोखे और मज़बूती में बेमिशाल ग्लास ब्रिज पर खास प्रभाव नहीं पड़ेगा। तो देर किस बात कि आप भी इस अनोखे और मज़बूत ब्रिज का दर्शन कर ही आइए। प्रकृति की गोद में समाया यह पुल अपने आने वाले आगुन्तकों के सेवा में बांहे पसारे स्वागत में खड़ा है।

LEAVE A REPLY