आशियाने खरीदने के समय इन बातों का ध्यान रखना है जरुरी, तभी बनेगी बात

0
67

महंगाई के इस युग में घर खरीदना इतना आसान नहीं रह गया है। बढ़ती महंगाई ने एक अदद आशियाने के सपने को साकार करना मुश्किल कर दिया है। दिन प्रति दिन फ्लैट की कीमत बढ़ती ही जा रही है। ऐसी स्थिति में आप यदि बेहतर पैसा भी कमा रहे हैं तो भी आपको बैंक से लोन लेने की जरूरत पड़ सकती है। इस मामले में सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि घर खरीदने से पहले अपने इकोनॉमी  स्थिति के साथ होम लोन फाइनेंसर की तलाश भी बड़ी सुझबुझ से करनी होती है। अगर आपको कोई मकान पसंद आ गया है और उसकी कीमत भी वाजिब लग रही है, तो आपकी अगली तलाश होम लोन फाइनेंसर की होगी। यह लाखों रुपये का मामला है और आने वाले कई सालों तक आपको एक निश्चित रकम इस मद में बचानी होगी, तो एक सही फाइनेंसर ढूंढना बेहद जरूरी हो जाता है।

फाइनेंसर का चुनाव और जांच-पड़ताल

इस मामले में ध्यान रखें कि लोन सेंक्शन होने के बाद भी पूरी लोन अवधि के दौरान आपको अपने फाइनेंसर के साथ संपर्क बनाए रखना होगा, इसलिए आपके फाइनेंसर की कस्टमर केयर पॉलिसी अच्छी होनी चाहिए। कस्टमर रिलेशंस मेंटेन करने पर कंपनी का ध्यान होगा तो आपके कई मुश्किलें बेहद आसानी से दूर हो जाएंगी, वरना शिकायतों का अंबार लग सकता है। कस्टमर के प्रति फाइनेंस कंपनी या बैंक का रवैया जानने के लिए उसके पुराने ग्राहकों से संपर्क कर सकते हैं। अगर आपके किसी दोस्त या परिचित ने भी उस कंपनी से लोन लिया है तो इस बारे में उससे जानकारी लेना न भूलें। कंपनी का पुराना रेकॉर्ड भी चेक करें।

LEAVE A REPLY