स्मार्ट होम

0
101
सिमी अपनी बेटी के एयर-कंडीशंडबेड रूम में बैठकर उसे कहानी सुनाकर सुलाने की कोशिश कर रही हैं। सिमी इस कमरे में बैठकर भी अपने फ्लैट में लगे क्लोज सर्किट कैमरे की बदौलत यह देख सकतीहैं कि मुख्य दरवाजे से कौन घर के अंदर आ रहा है या बाहर निकल रहा है। सिमीयहीं बैठकर अपनी किचेन के लाइट बंद कर सकती हैं। फ्लैट के प्रत्येक कमरे में एकपैनल लगा है जिसके जरिए रिमोट कंट्रोल के इस्तेमाल से पूरे फ्लैट की लाइटिंग का नियंत्रण किया जा सकता है। पैसेज में कोई गतिविधि होने के साथ ही लाइट ऑन होजाती है। इसकी वजह पैसेज में लगा सेंसर है जो खुद ब खुद लाइट ऑन या ऑफ करदेता है।
 
 

कार्यस्थल के अलावा घर ही एक ऐसी जगह है जहां हम अपना अधिकांश समय बिताते हैं। कार्यस्थल की सजावट और डिजाइन आदि को तय करना हमारे हाथ में नहीं होता लेकिन घर के डिजाइन और साज -सज्जा को हम अपनी मर्जी और रूचि के अनुसार तैयार कर सकते हैं या फिर इसमें बदलाव ला सकते हैं।

सुविधा , सुरक्षा और सौंदर्य का ख्याल

स्मार्ट होम के दौर में आपका स्वागत है। इन घरों में आधुनिक तकनीक के साथ ही नवीनतम डिजाइन और कला के इस्तेमाल से सुविधा, सुरक्षा और जीवन के सौंदर्य को बढ़ाया जाता है। तकनीक में परिवर्तन आने के साथ ही हमारे जीवन की सुख सुविधाओं में भी दिनों दिन बढ़ोतरी हो रही है। अर्थव्यवस्था के विकास की रफ्तार बढऩे के साथ ही लोगों की आमदनी भी बढ़ी है। रियल एस्टेट के बाजार में तेजी औरआकांक्षाओं के बढऩे के साथ ही नए मैटीरियल , गैजेट और डिजाइन सेवाओं केउपलब्ध होने से स्मार्ट होम अब भारत में वास्तविकता बन गए हैं और आर्थिक रूप से मजबूत परिवार अब ऐसे घरों की ओर बड़ी संख्या में आकर्षित हो रहे हैं।

रियल्टी कंपनियों ने भी ग्राहकों की नब्ज पकड़कर अपनी रणनीतियों में बदलाव किएहैं। कंपनियां अब ऐसे अपार्टमेंट बना रही हैं जिनका डिजाइन ग्राहक अपनी इच्छानुसार तय कर सकता है। ग्राहक अब अपने घर के आसपास का माहौल और सुविधाओं के लिए कुछ अधिक खर्च करने को भी तैयार हैं। इसे देखते हुए रियल्टी कंपनियां बहुमंजिला पार्किन्ग , स्मार्ट लिफ्ट , बेहतर सिक्युरिटी सिस्टम , क्लब हाउस, स्विमिंग पूल , एयर – कंडीशंड और फर्नीश्ड लॉबी के साथ साफ सफाई और इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बर और माली जैसी सेवाएं भी उपलब्ध करा रही हैं।इस सबसे हमारे सोचने और जीने के तरीके में बड़ा बदलाव आया है। वे दिन बीत गए जब हम अपने घर के डिजाइन के अनुसार खुद को ढालते थे। घर का डिजाइन अब इसके मालिक की जीवन शैली के अनुरूप तैयार किया जाता है और इसे बेहतर बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाती।

बाथरूम पर दिल खोल कर खर्च हो रहा है

स्मार्ट होम में बाथरूम पर खास ध्यान दिया जाता है और इस पर काफी खर्च होता है।बाजार में सैनिटरीवेयर, टाइल और अन्य सामान में बेहतरीन और आधुनिक डिजाइन मौजूद हैं। बाथरूम में गीले और सूखे भाग होते हैं। इसके साथ ही रेन शावर,तापमान के नियंत्रण वाले बॉडी शावर और प्रेशर पंप भी लगे होते हैं। बाथटब के बाजार में बहुत से विकल्प मौजूद हैं। अब आप बाथटब में ही जैकुजी , स्टीम क्यूबिकल, संगीत, एफएम रेडियो , मिनी बार और डीवीडी प्लेयर की सुविधा का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा वॉशबेसिन के भी बहुत से सुंदर डिजाइन मौजूद हैं।बाथरूम की सजावट पर भी खास ध्यान दिया जा रहा है। बाथरूम में मैगजीन रैक और वजन मापने वाली मशीन भी रखी जा रही है।

होम ऑटोमेशन – तकनीक का अदभुत इस्तेमाल

होम ऑटोमेशन सिस्टम आज के घरों में आधुनिक तकनीक का शायद सबसे बेहतरीन उदाहरण हैं। इनमें सबसे आगे लाइटिंग और सिक्योरिटी सिस्टम हैं। होम ऑटोमेशनसिस्टम के जरिए पूरे घर की बिजली व्यवस्था पर नियंत्रण किया जाता है। इनमें टच-स्क्रीन एलसीडी मॉनीटर लगे होते हैं जिन पर पूरे अपॉर्टमेंट को देखा जा सकता है और आप एक पॉइंट से ही इलेक्ट्रीक्लस को कंट्रोल कर सकते हैं। मोशन सेंसर के जरिए कमरे में किसी की मौजूदगी होने या न होने पर लाइट खुद ब खुद ऑन या ऑफ हो जाती हैं। इसमें एक मास्टर रिमोट कंट्रोल भी उपलब्ध होता है जिससे आप अपने एयरकंडीशनर और टेलीविजन के साथ ही लाइटिंग को भी कंट्रोल कर सकते हैं। घर की सुरक्षा में सिक्युरिटी सिस्टम अहम भूमिका निभा रहे हैं। इनमें क्लोज सर्किट कैमरों के साथ बायोमैट्रिक लॉकिंग सिस्टम और बरगलर अलार्म भी लगा होता है।सुरक्षा में कोई भी सेंध लगने पर अलार्म बज जाता है और अगर आप घर से बाहर हैं तो आपके मोबाइल पर एसएमएस के जरिए संदेश आ जाता है।

होम थिएटर : जोर पकड़ रहा है चलन

घर के किसी एक कमरे को होम थिएटर के रूप में तब्दील करने का चलन काफी लोकप्रिय हो रहा है। इसमें एक प्रोजेक्टर , सराउंड साउंड, चौड़ी और आरामदायक कुर्सियां और अन्य सुविधाएं मौजूद होती हैं। होम थिएटर के साथ आप घर पर ही मल्टीप्लेक्टस सिनेमा हॉल जैसे अनुभव के साथ अपनी पंसदीदा फिल्म का लुत्फ लेसकते हैं।

सुविधाजनक किचन

रसोईघर घर का एक अहम हिस्सा होता है। आज के दौर में किचेन में आधुनिक उपकरणों के साथ ही अन्य सुविधाएं भी मौजूद होती हैं। डिशवॉशर को वॉशिंग मशीन, चिमनी को बर्नर और माइक्रोवेव को ओवन के साथ जोड़ा जा रहा है। रेफ्रीजरेटर का आकार तो बढ़ा ही है , इसके साथ ही इसमें वॉटर फिल्टर को भी जोड़ा जा रहा है। किचेन में अब आकर्षक डिजाइन वाली यूनिट लगाई जा रही हैं। इनमें आप बर्तन औरअन्य सामान रख सकते हैं।

लिविंग रूम – स्टाइल और सुविधा का संगम

लिविंग रूम में बड़े आकार वाले सोफा चलन बढ़ रहा है। इसके साथ ही बड़ी स्क्रीनवाले एलसीडी टेलिविजन को भी पसंद किया जा रहा है। इसी कमरे में एक मिनी बारको भी जगह दी जा रही है। इसमें काउंटर , बार स्टूल और अन्य सामान मौजूद रहता है। इसके डिजाइन पर भी खास ध्यान दिया जा रहा है।

बेडरूम – बदल रहा है स्टाइल
बेडरूम घर का वह कमरा होता है जहां दिन भर की थकान के बाद व्यक्ति चैन की नींद लेने के लिए पहुंचता है। बेडरूम में भी बहुत से बदलाव देखे जा रहे हैं। इसमें बड़े आकार के बेड पर आरामदायक गद्दों और खूबसूरत बेडशीट का इस्तेमाल हो रहा है। साथ ही इसमें एलसीडी टेलिविजन, मसाज चेयर, परफ्यूम कैबिनेट, डिजाइनर पर्दोंको भी जगह दी जा रही है। ब’चों के बेडरूम को उनकी उम्र और रूचि के अनुसार डिजाइन किया जा रहा है। बच्चों की स्टडी टेबल और लाइब्रेरी भी बेडरूम में भी मौजूद होती है।

साज – सज्जा  में बढ़ रहा है कला इस्तेमाल
घर की सजावट और इसमें सकारात्मक ऊर्जा के संचार के लिए पेंटिंग और कला कीअन्य वस्तुओं के साथ ही फेंग्शुई का इस्तेमाल भी किया जा रहा है। घर के डिजाइन में कला को विशेष महत्व मिलने लगा है। यह कहा जा सकता है कि अगर आपके पास धन की कमी नहीं है तो आधुनिक सुविधाओं और नए डिजाइन के साथ आप अपने सपनों के आशियाने को हकीकत में तब्दील कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY