व्यक्तित्व का आईना है मेज

0
92

आपकी मेज आपके व्यक्तित्व का आईना है, जहां हर चीज़ साफ झलकती है। आप अपने घर या दफ्तर में किस प्रकार से मेजों का प्रयोग करते हैं, यह आपके बारे में हर एक कहानी बयां कर देती है। एक  रिसर्च रिपोर्ट के अनुसार मेज यह बता सकता है कि आप किस मिजाज के मालिक हैं

यदि आपकी  मेज काफी साफ सुथरी है तो यह सादा जीवन का प्रतीक माना जाता है। आप सादगी में जीने को बेहतर मानते हैं। जानकर कहते हैं कि यदि आपकी मेज साफ-सुथरी है तो आप अंतर्मुखी व्यक्तित्व भी हो सकते हैं। कुछ लोगों का मानना है कि यदि आप बहिर्मुखी प्रवृति के हैं तो आप अपनी मेज को शोकेस या दूकान की खिड़की की तरह इस्तेमाल करते हैं। ऐसे लोगों के लिये मेज एक प्रकार शॉ ऑफ की तरह है, जो चीख-चीखकर लोगों को उनकी पसंद या नापसंद के बारे में बताती है। चिंतक या संवेदनशील व्यक्तियों की मेज पर कुछ ऊल-जलूल सी लगने वाली चीज़ भी हो सकती है, जैसे-किसी छुट्टïी की यादगार लम्हे के फोटो, दुलारे बच्चों की तस्वीर। कुछ व्यक्ति अपनी मेज पर नर्म नाजुक खिलौने रखते हैं, जिसका मतलब निकलता है कि मुझे पसंद करो। जानकार यह भी बताते हैं कि सोचने विचारने वाले लोग ऐसी चीजें मेज पर सजाना पसंद करते हैं, जिनसे उनकी छवि संवारने में मदद हो। वे या तो सर्टिफिकेट, अवार्ड, किताबें या ऐसी चीज़े सजाकर रखते हैं, जिनसे उनके कामधंधे के महत्व का अंदाज़ा हो, या ऐसी तस्वीरें जिनसे उनके शान का बखान होता हो। कठोर मन वाले लोग अपने काम की जगह पर भी घेरेबंदी बनाकर रखना पसंद करते हैं। उनकी कुर्सी, मेज और खिड़की के बीच होगी, उनकी मेज ऊपर उठी हो सकती है, कमरे का दरवाजा बंद रहता होगा- हो सकता है कि दीवार पर एक स्क्वाश का रैकेट टंगा हो, इस बात की निशानी कि उन्हें कड़े मुकाबले वाले खेल पसंद हैं। दूसरी ओर नर्मदिल लोगों का मेज स्वागत करता सा लगता है- आम तौर पर वे मेज से हटकर आपसे बातचीत करेंगे और अगर वे आपको चाय या कॉफी पूछें तो प्याला भी आपकी ओर अपने हाथों से ही बढ़ाएंगे।  मेज पर तरतीब से रखे फलों में छिपा संदेश है  कि मैं एक स्वस्थ बालक हूं- मैं मिनरल वॉटर पीता हूं। मेज पर रखे मुलायम खिलौनों का अर्थ है कि इस मेज का प्रयोग करने वाला व्यक्ति बच्चों जैसा, लचीला व्यक्तित्व का स्वामी हो सकता है और ऐसा व्यक्ति गर्मजोशी से दोस्ती करना पसंद करता है। मेज पर रखे अनोखे खिलौनों का अर्थ है कोई ऐसा इंसान जो हंसना-हंसाना चाहता है और साथियों से दोस्तों की तरह बर्ताव करना चाहता है । आप कभी-कभी सोचते होंगे कि देखो यह व्यक्ति कैसा है, जो अक्सर अपनी मेज पर पैसे, चाभियां, पर्स या मोबाइल फोन जैसी चीजें छोड़ देता है। आप ऐसेे लोगों को भुलक्कड़ या लापरवाह समझना बंद कर दीजिए- इसका
अर्थ है कि वे लोगों पर भरोसा करते हैं। किसी मेज पर रखे पुराने थके हुए से माउस पैड को देखकर धोखा मत खाइए कि यह व्यक्ति पुराने विचारों का तो नहीं है, यदि आप ऐसा सोचते हैं तो अपनी मानसिकता बदल लीजिये वस्तुत: वो भी उस मेज पर बैठनेवाले का एक इश्तिहार है, जिसपर लिखा है मैं यहां काम करने आता हूं, दफ्तर को सजाने संवारने नहीं।

LEAVE A REPLY