आम बजट 2017-18 ने घर खरीदने वालों को राजा बना दिया : एम. वेंकैया नायडू

0
55

‘किफायती आवास क्षेत्र को अवसंरचना क्षेत्र का दर्जा मिलने से निवेश प्रवाह बढ़ेगा, कर्ज जोखिम में कमी आएगी’
‘सामाजिक न्‍याय एवं समानता सुनिश्चित करने के लिए किफायती आवास क्षेत्र को बढ़ावा’
18 लाख रुपये प्रति वर्ष तक की आय वाले लोगों को सरकार की सहायता मिलने से फिर से लौटेगा हाउसिंग बूम- नायडू

केंद्रीय आवास एवं शहरी गरीबी उन्‍मूलन मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने कहा है कि आम बजट 2017-18 ने किफायती आवास क्षेत्र को विभिन्‍न प्रकार की छूट और रियायत देने के जरिये डेवलपर्स को प्रोत्‍साहित और निवेश को उत्‍प्रेरित किया है और घर खरीदने वालों को राजा बना दिया है। उन्‍होंने मीडिया को संबोधित करते हुए बजट में आवास क्षेत्र पर दिए गए जोर और इसके जरिये खरीदारों को अपना खुद का घर खरीदने के लिए बढ़े हुए विकल्‍पों के द्वारा इसके निहितार्थों की चर्चा की और कहा, बजट में किफायती आवास क्षेत्र पर दिए गए जोर से सरकार की इसके समावेशी विकास दृष्टिकोण के तहत सामाजिक न्‍याय एवं समानता सुनिश्चित करने की प्रतिबद्धता का संकेत मिलता है। किफायती आवास क्षेत्र को अवसंरचना क्षेत्र का दर्जा दिए जाने से इस ओर निवेश प्रवाह बढ़ेगा, कर्ज जोखिम में कमी आएगी और कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन और बीमा कंपनियों जैसे सार्वजनिक क्षेत्र के बड़े निवेशक अब आवास क्षेत्र में निवेश करेंगे। उन्‍होंने कहा कि कमजोर, निम्‍न तथा मध्‍य आय वाले लोगों को सरकार द्वारा विभिन्‍न प्रकार की सहायता मिलने से मांग एवं आपूर्ति दोनों में ही सुधार होगा और हाउसिंग बूम फिर से लौट आएगा।

LEAVE A REPLY