मोहागनी से घर की रौनक बढ़ाएं

0
87
Mohagany Furniture
Photo Credit-http://www.patahome.com

आजकल बनने वाले मोहागनी के फर्नीचर ज्यादातर दो वैराइटियों की लकडिय़ों से बन रहे हैं। अफ्रीकन मोहागनी और साउथ मोहागनी। साउथ अमेरिकन मोहागनी फाइन फर्नीचरों के लिए इस्तेमाल होती है। वैस्ट इंडियन मोहागनी एक ऐसी वैराइटी है, जो बाजार में आसानी से नहीं मिलती है। दरसअल मोहागनी घुमावदार डिज़ाइन वाले फर्नीचरों के लिए सर्वोतम मानी जाती है। इस लकड़ी से फर्नीचर में दिये गये कर्व की फिनिशिंग और डिज़ाइनिंग में कोई दिक्कत नहीं होती है और फर्नीचर को बेहद उम्दा टच आसानी से दिया जा सकता है।

जो बात तुम है किसी और में नहीं…

दादी-नानी के समय में लकड़ी के फर्नीचर से सजे घरों की रौनक देखते बनती थी। समय के साथ लकड़ी के बने फर्नीचर रइसों के घर की शोभा बने और कुछ समय बाद आउट डेटेड भी कहलाए गए। पर वह फैशन ही क्या जो खुद को न दोहराये आज के समय में लकड़ी के फर्नीचर के प्रति लोगों में फिर से वह सोया जुनून जाग रहा है। अब लोग एक बार फिर से वुड वर्क और वुडन फर्नीचरों से अपना घर सजाने लगे। बाजार भी लोगों की भावनाओं और आकर्षण को समझ कर कई वैराइटी के वुडन फर्नीचर बचने को तैयार नज़र आ रहा है। लेकिन फिर भी जो बात शीशम, सागवान और मोहागनी की लकडी के बने फर्नीचरों में होती है, वो किसी अन्य लकडी के बने फर्नीचरों में नहीं होती है। यही वजह है कि इन लकडियों के बने फर्नीचर महंगे होने पर भी सबसे ज्यादा मांग में रहते हैं। मोहागनी लकड़ी के बने फर्नीचर आजकल ज्यादा डिमांड में है। दरअसल, मोहागनी वैल फिनिशिंग फर्नीचरों को बनाने के काम आने वाली बहुत अच्छी और मज़बूत लेकिन महंगी लकडी है। अपने डीप रेडिश ब्राउन कलर के कारण के बेहद चर्चित इस लकडी की खासियत है कि इससे बना फर्नीचर मज़बूत, टिकाऊ और सुन्दर होता है। इसी कारण इस लकड़ी से बना फर्नीचर आपकी लाइफ टाइम इनवेस्टमेंट माना जाता है। अगर आप भी मोहागनी के फर्नीचर से अपना घर सजाने की सोच रहे हैं, तो कुछ हिंट्स आपकी खरीदारी को आसान बना देगी।
मोहागनी क्या है?
आजकल बनने वाले मोहागनी के फर्नीचर ज्यादातर दो वैराइटियों की लकडियों से बन रहे हैं। अफ्रीकन मोहागनी और साउथ मोहागनी। साउथ अमेरिकन मोहागनी फाइन फर्नीचरों के लिए इस्तेमाल होती है। वैस्ट इंडियन मोहागनी एक ऐसी वैराइटी है, जो बाजार में आसानी से नहीं मिलती है। दरसअल मोहागनी घुमावदार डिजाइन वाले फर्नीचरों के लिए सर्वोतम मानी जाती है। इस लकडी से फर्नीचर में दिये गये कर्व की फिनिशिंग और डिजाइनिंग में कोई दिक्कत नहीं होती है और फर्नीचर को बेहद उम्दा टच आसानी से दिया जा सकता है।
क्यों खरीदें?
पारंपरिक स्टाइल से घर सजाने के लिए मोहागनी फर्नीचर एक बेजोड़ ऑप्शन है। साथ हर ट्रेडिशन और फैशन का परफैक्ट फ्यूजन जितना अच्छा लुक इसमें देता है, शायद कोई और दे सके। मोहागनी की सुन्दरता और रंग के साथ जो लांग लास्टिंग मजबूती है, वहीं सबसे ज्यादा आकर्षण का सबब है। आपके घर को सजाने वाला सुन्दरता और बारीक से बारीक नक्काशी की जटिलता का ये संगम बरबस ही लोगों को अपाकी पसंद को तारीफ करने के लिए मज़बूर कर देगा। अगर आप चाहे और बजट इजाजत दे तो सोफा टेबल और नाइट स्टेंड के लिए मोहागनी को चुन सकते हैं। डाइनिंग टेबल और अलमारी जैसे बडे सामान आपके घर को और भी खूबसूरत बना देंगे।
इन बातों का रखें ख्याल
1-कुछ फर्नीचर विक्रेता मोहागनी के नाम पर दूसरी लकड़ी की वस्तुएं बेचते हैं, इसलिए फर्नीचर खरीदते समय किसी रजिस्टर्ड दुकान पर ही जाएं।
2-अगर आप को लकड़ी के विषय में थोडा सा भी संदेह है, तो खरीदने से पहले दुकानदार से ठीक से पूछताछ कर लें। अगर आप एंटीक खरीद रहे हैं तो सिर्फ वहीं खरीदें जिस पर मोहागनी एसोसिएशन द्वारा इश्यू किया गया मोहागनी का टेग जरूर देख लें।
सही दाम की चाहत है तो मोहागनी महंगा फर्नीचर है, लेकिन इसकी मजबूती बेमिसाल है। इसलिए आप चाहें तो सेकेंड हैंड फर्नीचर खरीद सकते हैं। इसके लिए आपको एस्टेट सेल्स पर्सन से सम्पर्क करना पडेगा। गवर्नमेंट की ओर से होने वाली नीलामी भी आपकी मदद कर सकती है। आप चाहें तो एड के जरिए भी मोहागनी फर्नीचर खरीद सकते हैं।

LEAVE A REPLY