ट्रेंड में है टू इन वन

0
99
Cocinas Minimalistas para ahorro de espacio 1
photo courtesy http://cocinaymuebles.blogspot.in

की कमी को लेकर हर जगह घमासान मची है। खासकर, घरों में सिमटती जगहों ने कई नए विकल्प अपनाने को मजबूर कर दिया है। कम जगह का बेहतर उपयोग करने के लिए मल्टीपल यूज वाले फर्नीचर से बढिय़ा कोई और चीज नहीं हो सकती। लिविंग स्पेस में रखे ये फर्नीचर अक्सर 2 इन 1 का काम करते हैं। यह देखने में खूबसूरत भी लगता है।

टू इन वन फर्नीचर

टू इन वन फर्नीचर आजकर ट्रेंड में है। यह कई रेंज उपलब्ध है। सोफा-कम-बेड, बाक्स इन बेड, कम्प्यूटर का सामान स्टोर करने वाली कम्प्यूटर टेबल, एक ऐसी अलमारी जो आपका बार भी हो, ऐसा बुकशेल्फ, जिसके ऊपर आप सामान भी रख सकें, मल्टीपर्पज किचिन शेल्फ अलावा बच्चों के तमाम ऐसे फर्नीचर हैं, जिन्हें इस्तेमाल करके आप अच्छा खासा जगह बचा सकते हैं। यह फर्नीचर कम जगह के लिए बेहतर विकल्प बन कर उभर रहा है। बेडरूम के लिए फर्नीचर इस मामले में काफी अहम होते हैं।

सोफे का बदल रहा है स्वरूप

कई सोफा सेट ऐसे होते हैं, जो रात को बेड में बदले जा सकते हैं। इसमें सोफे के आधार को बड़ी ड्राअर के रूप में बनाया जाता है, जिसके अंदर आप बिस्तर भी रख सकते हैं। दिन में बिस्तर रखिए और रात को बिछा लीजिए। जिस कुशन पर आप दिन में पीठ लगाकर बैठते हैं, उसी पर रात को तकिया रखकर मीठी नींद का मजा ले सकते हैं। इसी तरह, कई घरों में दीवान को लोग दिन में बैठने के लिए और रात को सोने के लिए इस्तेमाल करते हैं।

ट्रेंड वक्त के अनुसार

इन दिनों बाक्स वाले दीवान और बेड बनाने का ट्रेंड हैं, ये जहां बेड का काम करते हैं, वहीं बिस्तरे आदि रखने के लिए स्टोरेज के भी काम आते हैं। इसी प्रकार से जिस तरह पुराने दौर के भारी-भरकम कम्प्यूटर्स की जगह स्लीक एलसीडी मॉडल्स और लैपटॉप ने ले ली है, ठीक उसी तरह कम्प्यूटर टेबल्स की डिजाइनिंग भी पूरी तरह बदल गयी है। आज कम्प्यूटर टेबल्स पर सिर्फ कम्प्यूटर रखने के अलावा आप इससे जुड़ी तमाम चीजों को स्टोर भी कर सकते हैं। इसका निचला हिस्सा बाक्स के रूप में बंटा होता है, जिन पर सीडी और डीवीडी आदि रखे जा सकते हैं। कुछ टेबल तो साइज में इतनी कॉम्पैक्ट होती है कि इन पर मेन टेबल के नीचे ही प्रिन्टर, सीपीयू और कई शेल्वस में सामान रखने की जगह होती है। आप अपनी जरूरत के आधार पर कस्टमाइ’ड कम्प्यूटर टेबल भी तैयार करा सकते हैं।

स्पेस बढ़ाने के तरीके

आजकल लगभग हर घर में सुंदर-सी वॉल यूनिट देखने को मिल जाती है। यह आम तौर पर लिविंग रूम में रखी होती है, लेकिन यह ड्राइंग रूम और बेडरूम की खूबसूरती भी उतने ही शानदार तरीके से बढ़ाती है। इनमें डेकोरेटिव आइटम्स के अलावा आप टीवी, प्लाज्मा टीवी, म्यूजिक सिस्टम, डीवीडी प्लेयर, क्रॉकरी आदि रख सकते हैं। बाज़ार में ऐसी वॉल यूनिट भी उपलब्ध हैं, जिनका एक हिस्सा खोलने पर वह बार की शक्ल ले लेता है। लिकर बोतल और अलग-अलग साइज के गिलास रखने के लिए बाकायदा जगह बनी होती है। साथ ही टिश्यू पेपर, कॉर्क ओपनर और कॉस्टर्स रखने के लिए भी ड्रॉअर बनायी जाती हैं। घर में अलग से बार बनाने के लिए आपको अच्छी -खासी स्पेस की जरूरत होती है, जबकि इस तरह की वॉल यूनिट से आपका काम बेहद कम जगह में हो जाएगा। बुक केस के मामले में डिजाइन पर थोड़ा ध्यान देने की जरूरत है। बुक शेल्फ को आप दीवार से सटाकर आठ नौ फीट की ऊंचाई तक तैयार कर सकते हैं। एडीशनल स्टोरेज के लिए शेल्फ में दरवाजे भी लगवाए जा सकते हैं। किचिन शेल्फ को भी इसी तरह तैयार किया जा सकता है। खुली हुई शेल्फ में शुगर, चाय और कॉर्नफ्लेक्स आदि के जार रख सकते हैं, जबकि रोटेटिंग ट्रे में अनाज और सब्जियां रखी जा सकती हैं।
मल्टीपर्पज फर्नीचर

बच्चों का कमरा को भी इसी प्रकार से उपयोग में लाया जा सकता है। इनके लिए मेज-कुर्सी का सेट इस तरह बनाया जाता है, जिसे समय के साथ बदला जा सके। जैसे-जैसे बच्चा बड़ा होता है, उसकी जरूरतें भी बदल जाती हैं। उसके फर्नीचर की जरूरतें भी पहले जैसी नहीं रह सकतीं। लिहाजा नया फर्नीचर खरीदना पड़ता है। इस खर्चे से बचने के लिए अच्छा है कि मल्टीपर्पज फर्नीचर खरीदा जाए। बेड ऐसा लें, जिसमें बच्चे के कपड़े और खिलौने भी रखे जा सकें। ब्लाक स्टाइल जैसे फर्नीचर को सिटिंग, स्टोरेज और होमवर्क आदि करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इनके अलावा भी तमाम ऐसे फर्नीचर्स है, जो 2 इन 1 का काम करते हैं। ऐसी टेबल, जिसमें आप मैग्जीन भी रख सकें या फिर ऐसा शू रैक, जिसे आप बैठने के लिए भी इस्तेमाल कर सकें, इस तरह के फर्नीचर का बेहतरीन उदाहरण हैं। कुल मिलाकर आप अपने घर में ऐसे कई 2 इन 1 फर्नीचर का इस्तेमाल करके व्यस्त माहौल से बच सकते हैं और सुकून भरी जिन्दगी जी सकते हैं।

LEAVE A REPLY