वेंकैया नायडू ने तीन दिन के अंतर्राष्ट्रीय योग उत्सव का उद्घाटन किया

0
51

सूचना और प्रसारण तथा शहरी विकास और आवास मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में तीन दिन के अंतर्राष्ट्रीय योग उत्सव का उद्घाटन किया। इस उत्सव का आयोजन अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2017 की पूर्व प्रस्तुति के रूप में किया गया है। अपने उद्घाटन भाषण में  वेंकैया नायडू ने कहा कि लोगों में सौहार्द और एकता लाने के लिए योग एकमात्र रास्ता है। उन्होंने कहा कि योग स्वस्थ और तदुरुस्त रहने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। श्री नायडू ने कहा कि प्रधानमंत्री चाहते है कि योग को जन आंदोलन बनाया जाए और उन्होंने दुनिया के 192 देशों तक योग को फैलाया है। सूचना और प्रसारण मंत्री ने योग को जन आंदोलन बनाने के काम में योगदान कर रहे योग गुरूओं तथा योग मास्टरों को भी धन्यवाद दिया।

इस अवसर पर आयुष राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीपद येसो नाईक ने कहा कि समग्र स्वास्थ्य और चिकित्सा के लिए योग को पूरे विश्व में स्वीकार किया गया है। उन्होंने कहा कि योग भारतीय चिकित्सा की परंपरागत प्रणाली है और इसमें रोग की रोकथाम तथा चिकित्सा की क्षमता है। एक बिलियन से अधिक आबादी वाले भारत को स्वास्थ्य क्षेत्र में समग्र आयुष प्रणाली अपनाने की आवश्यकता है ताकि समेकित और उत्पादक तरीके से बड़े कार्यबल का उपयोग किया जा सके।

श्री नाईक ने कहा कि आधुनिकीकरण बढ़ने और व्यस्त सामाजिक जीवन के कारण योग का महत्व बढ़ा है। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक समुदाय योग-अनुसंधानकर्ता, शिक्षाविद् और चिकित्सक जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में योग के उपयोग और उत्साह की बात कर रहे हैं। इस उत्साह से समग्र मानव विकास के लिए योग को नई दिशा मिलेगी। नाईक ने बताया कि उनके मंत्रालय ने लोगों के बीच योग को प्रोत्साहित करने के लिए अनेक कदम उठाए हैं। युवाओं में योग को लोकप्रिय बनाने के लिए फ्रेंचाइज आधारित योग लीग का आयोजन किया जा रहा है। आयुष रिसर्च स्कॉलरों को 200 फेलोशिप दिए जा रहे है। इस वर्ष योग के प्रोत्साहन और विकास के लिए उत्कृष्ट व्यक्ति और संगठन को एक राष्ट्रीय और एक अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार दिया जाएगा।

इस अवसर पर आयुष सचिव अजीत एम. शरण ने बताया कि पिछले वर्ष आय़ोजित अंतर्राष्ट्रीय योग उत्सव के अनुरूप देश के विभिन्न भागों में राज्य योग उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि योग संबंधी गतिविधियां पूरी वर्ष चलाई जाएगी। आयुष सचिव ने बताया कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग तथा सीबीएसई के परामर्श से डॉ. एच. आर. नागेन्द्र की अध्यक्षता वाली समिति द्वारा पाठ्यपुस्तकों और पाठ्यक्रमों के लिए योग विषय को तैयार किया गया है।

तीन दिन के इस उत्सव का आयोजन आयुष मंत्रालय, मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान द्वारा भारतीय योग एसोसिएशन और नई दिल्ली नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) के सहयोग से आयोजित किया गया ताकि प्रत्येक वर्ष मनाए जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह के बारे में लोगों को संवेदी बनाया जा सके।

इस अवसर पर योग ऋषि स्वामी रामदेव, डॉ. एच. आर. नागेन्द्र, स्वामी चिदानंद सरस्वती, ओ.पी. तिवारी, हमसा जयदेव, ब्रह्म कुमारी आशा, स्वामी भारत भूषण, स्वामी रितावन भारती, सिस्टर वी.के. आशा, एस. श्रीधरन, स्वामी दर्शक और स्वामी उलासा सम्मानित अतिथि थे। इस उत्सव में जाने-माने योग गुरू, योग मास्टर, विद्वान, नीति निर्माता, अधिकारी, योग उत्साही तथा संबद्ध विज्ञानों के विशेषज्ञ और 15-18 देशों के प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं।

योग उत्सव में निम्नलिखित संस्थान भाग ले रहे हैः

1.द आर्ट ऑफ लिविंग, बेंगलुरु

2.पतंजलि योग पीठ, हरिद्वार

3.ईशा फाउंडेशन, कोयम्बटूर

4.परमार्थ निकेतन, ऋषिकेश

5.एसवीवाईएएसए विश्वविद्यालय, बेंगलुरु

6.कैवल्यधाम, लोनावाला, जिला पुणे

7.योग संस्थान, सांताक्रूज़, मुंबई

8.राममणि अय्यंगार मेमोरियल योग संस्थान, पुणे

9। मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान, नई दिल्ली

10.प्रजापिता ब्रह्मा कुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय, माउंट आबू

11.मोक्षायतन अंतर्राष्ट्रीय योग आश्रम, सहारनपुर

12.कृष्णामाचार योग मंदिर, चेन्नई

13.स्वामी राम साधक ग्राम, ऋषिकेश

14.श्री अरबिंदो आश्रम, पुड्डुचेरी

15.शिवानंद योग वेदांत केंद्र, नई दिल्ली

16.अध्यात्मा साधना केंद्र, नई दिल्ली

17.गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय, हरिद्वार

18.अंतर्राष्ट्रीय नेचुरोपैथी संगठन

19.विवेकानंद योग आश्रम और अस्पताल, कुकरेजी, नई दिल्ली

मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान में 10 मार्च, 2017 को बाबा रामदेव तथा विभिन्न योग स्कूलों के मास्टरों के नेतृत्व में उत्सव बाद की योग कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा।

LEAVE A REPLY